वलहि

वलहि एका सनातन ग्राम अत्थि, ईमा पतिठ्ठापना अंतो सोरठ पदेश।